You are here
Home > Celebrity > A. P. J. Abdul Kalam तुझे सलाम

A. P. J. Abdul Kalam तुझे सलाम

A. P. J. Abdul Kalam के मुंह से अक्सर शिक्षक की भाषा सुनने को मिलती रही है. वे कहते हैं दृढ़ता, Hard work और धैर्य, यही वह रास्ता है जिस पर चल कर आप आगे बढ़ सकते हैं. मैं ने इन्ही तीन शब्दों पर अपने जीवन का पूरा सफ़र तय किया है. मेरे पिता ने Quran से हमेशा यह सिखाया कि दुनिया को बिना किसी डर के देखो. मेरे पिता पढ़े लिखे नहीं थे, पर वे चाहते थे की मैं पढूं.

A. P. J. Abdul Kalam Image

A. P. J. Abdul Kalam as Student

A. P. J. Abdul Kalam सुबह चार बजे उठ कर नहाते और फिर Math की Class पढनें जाते थे, वे जिस Teacher से Math पढ़ते थे, वह साल में सिर्फ पांच Students को पढ़ाया करते थे और उन्हों ने Students से शर्त रखी थी कि सभी उनकी Class में नाहा कर आएं.

Self Confidence पर Hindi Story

Math की Class पढने के बाद Abdul Kalam अपने चचेरे भाई के साथ पूरे शहर का एक चक्कर मारते थे. यह चक्कर शहर घुमने के लिए नहीं, बल्कि News Paper बांटने के लिए लगते थे.
कलाम कहते हैं: “मेरे Teachers ने मुझ से कहा कि अगर मैं सच्चे दिल और दृढ़ इच्छा के साथ कुछ चाहूँगा तो मुझे ज़रूर मिलेगा. इसी से मेरे अन्दर का डर समाप्त हुआ.”
चिड़ियों का उड़ना उन्हें शुरू से ही आकर्षित करता था. लेकिन कुछ ही वर्षों में उन्हें अंदाज़ा लग गया कि वह Aircraft उड़ाना चाहते हैं. School ख़तम करने के बाद Physics से आगे की पढ़ाई की, लेकिन उनके हाथ निराशा ही लगी. जब तक उन्हें Aeronautical Engineering मिली, तब तक वे अपने जीवन के तीन Valuable Years बेकार कर चुके थे.
Madras Institute of Technology, चेन्नई से उन्हों ने Aeronautics की पढ़ाई की. वहां से उन्हों ने समय की Time के महत्व को जाना. A. P. J. Abdul Kalam कहते हैं: “मैं उस Time एक Project का Leadership निभा रहा था. मेरे Principal उसे देखने आए. मेरे काम से काफी नाखुश हुए. उन्हों ने मुझे दो दिन का Time दिया और कहा की अगर मैं इसे पूरा नहीं कर पाया, तो मेरी Scholarships को ख़तम कर दिया जाएगा. मेरे पास पैसे नहीं थे मैं ने सोचा मैं आगे की पढ़ाई कैसे करूँगा. मैं बिना खाए पिये और सोए काम करता गया. दिये हुए समय के आखरी दिन मेरे Professor मेरे पास आए और काम में हुई उन्नति को देख कर काफी खुश हुए. उन्हों ने कहा: “ मैं खुश हूँ, मैं तुम्हें दबाव में लाना चाह रहा था. Deadline में काम करने में आने वाली कठिनाईयों से वाकिफ करवाना छह रहा था.”
A. P. J. Abdul Kalam कहते हैं कि मैं ने अपने हर Project को अपने आखरी Project की तरह देखा.

Free Hindi EBook प्राप्त करने के लिए

अपना Email Enter करें

Absarul Haque

एक ब्लॉगर जो अपनी बातों को अच्छी बातों में बदलना चाहता है. और आपके सहयोग के बिना ये नामुमकिन है.

http://www.achibaten.com/

4 thoughts on “A. P. J. Abdul Kalam तुझे सलाम

  1. A. P. J. Abdul Kalam एक महान पुरुष थे. हमें गर्व महसूस होता हैं की हम उस महान देश के नागरिक हैं जिस देश में ऐसे महान लोगों का जन्म हुआ.
    जय हिन्द

  2. Sir A P.J abdul klam was a great person, and role model of every Indian student, and he is my ideal, and he stand country in line of superpower, #salute you sir. India lost kohinoor, but he will live in heart of every Indian #### salute to my ideal #is officer ka slam :

Leave a Reply

Top
www.000webhost.com