How to Train Children Article In Hindi

How to Train Children Article In Hindi

How to Train Children? एक बहुत ही sensitive question.

आप बच्चे के First Teacher हैं। आपकी Help से आपका बच्चा बड़ा होकर एक अच्छा पढ़ने वाला और प्रभावी ढंग से लिखने वाला बनेगा। और जब वह एक दिन Collage, University या Job में जाएगा तो इससे बहुत बड़ा फर्क पड़ेगा! आपको अपने बच्चे को Writing and Reading सिखाने के लिए कोई Special skills की आवश्यकता नहीं है। केवल अपने बच्चे के साथ Daily Activities में Time spend करने से उसकी Life में बहुत बड़ी Changing आसकती है। चाहे आप के बच्चे हाल ही में पढ़ना लिखना शुरू किया है या पहले से जानता है सीखने का Extra Scope हमेशा मौजूद रहता है। ज्यों ज्यों आपका बच्चा बड़ा होगा तो वह नए नए Opportunities और Achievements से मज़ा उठाएगा क्यूँ के उसके पहले Teacher अर्थात आप ने घरों पर Time निकाल कर मेहनत से बातें कीं, खेला और सुना। यह सब उसमे Help करता है जो आपका बछा School में सीखता है।

भाषा (Language) जो हमारे आसपास है!
It’s certified fact कि बच्चे को पढ़ कर सुनाना आपके बच्चे के लिए बहुत Helpful होता है।
• अपने बच्चे को बताइए कि एक Book को ठीक तरह से कैसे Use किया जाता है
• Up Side कौन सी है?
• Story शुरू कहाँ होती है?
• आप Page किस Side से Start करते हैं?
• जो कुछ Pictures में हो रहा है, उस बारे में बात करें।
• अपने बच्चों से Questions करें  कि वे Different items की Identify करना और उन को described करें।
• जब आप अपने बच्चे को पढ़कर सुना रहे हों या बात कर रहे हों तो अपनी Fingers से Different items और Words की ओर POINT करें।
• अपने बच्चे को Stimulate करें कि वे अपने Words में उन Activities के बारे में बताएं जो उन्होंने ने की हैं।
• Story कहां खत्म होती है?
•जो कुछ भी पढ़ने को मिले पढ़ें, Packets पर लगी हुए Label, Road पर लगे हुए Street Sign Boards, घरों के Name Plates, दुकानों के नाम आदि।
Remember, बिना Words के Pictures वाले  Books भी केवल Books ही होते हैं!
बच्चे Stories बार बार सुनना पसंद करते हैं और वह अपनी Favorite Stories या Poetry को बार बार सुनना पसंद करेंगे। अपने बच्चों से बात करें कि वे कौन सी Story या Poetry सुनना पसंद करेंगे।
Math एक Interesting topic है!
सब कुछ Count कीजये!
जब उनके साथ चलें तो Steps गिनें, एक Plate में मटरों को Count करें, Dining Table के आसपास कितने लोग हैं, हमें कितनी Spoons की  आवश्यकता होगी, कितने लेगो को पानी पीना है, हमें कितने Glass लगेंगे, आदि। इससे आपके बच्चे को आंकड़ों को समझने में Help मिलेगी।
आंकड़े हर जगह मौजूद होते हैं:
Car और घरों के Numbers पता करें। आंकड़ों की ओर इशारा करें और अपने बच्चे के लिए एक Challenge set करें कि वह कितने “3” Find कर सकता है। First, Second and Third Arrangement के बारे में बात करें। Guess करें कि किसके पास सबसे अधिक Sweets, Potato, Chips  आदि हैं। गिनती की Poetry को मिलकर गाएं।
अपने बच्चे को अपने Wallets में Coins का पता लगाने दें
Coins के Different Groups बनाएं और बात करें कि किसके पास अधिक Coins हैं। Count करें कि आप में से हर एक के पास कितने सिक्के हैं। उनकी Structure और Shape की तुलना करें।
अपने बच्चे को Simple Size पहचानने की Training दें
Square, Round, Rectangular और Triangle आकार, घर के Different रूपों की पहचान करें। बाहर दुकानों आदि जाते हुए यह देखें कि Road में कितनी Round objects की पहचान की जा सकती है।
दिन के समय के बारे में बात करें।
दिन के के समय के बारे में सुबह जागने का समय, Nursery जाने Time, खाने का Time, बिस्तर में जाने का Time आदि।
सप्ताह के दिनों के बारे में बात कीजिए और उन के दौरान आप क्या करते हैं। पिछले दिन के कल और आने वाले कल के बारे में बात करें। Year में Months, Weather और Special functions जैसे Xmas, Easter, Birthday Diwali, Eid  के बारे में बात करें।

याद रखने वाली बातें
Things to remember

जिस बचे पर भरोसा नहीं किया जाता वह धोका देना सीखता है।
जिस बच्चे का हर वक़्त मजाक उड़ाया जाता है वह बुजदिल होजाता है।
जिस बच्चे की हर वक़्त आलोचना किया जाए वह हर चीज़ को रद्द करना सीखता है।
जिस बच्चे के साथ हर वक़्त मार पीट होती हो उसकी काम करने की क्षमता घट जाती है ।

Free Hindi EBook प्राप्त करने के लिए

अपना Email Enter करें

One thought on “How to Train Children Article In Hindi

Add Comment