Success

8 Success Lessons By Azim Premji in Hindi

8 Success Lessons By Azim Premji in HindiAzim Premji उनकी International Reputation Company, Wipro Ltd. America की IBM को टक्कर देती है बल्कि कुछ मामलों में उससे भी बेहतर समझा जाता है. अपनी Busy Life के साथ साथ वे Business की दुनिया में नए आने वाले खास तौर से युवाओं को अपने Extensive Experience के आलोक में Principles Of Success पर Lecture देते हैं.

उनकी एक Lecture को मैं यहाँ लिखने की कोशिश कर रहा हूँ. Lecture का विषय था, मेरे जीवन के अनुभव.

Azim Premji के Idea और Business Theory इतना Impressive हैं कि न केवल Business बल्कि Normal Life में भी बहुत Useful साबित हो सकते हैं.

8 Success Lessons By Azim Premji in Hindi

एक Interesting Fact यह है कि Success होने में में काम आने वाली बातों का एहसास Ordinarily हमें उस समय होता है, जब उन्हें भुनाने का अधिकांश समय बीत चुका हो. जैसे अब मेरे बाल काले से सफेद हो चुके, तो मुझे अपनी जवानी के Value का एहसास होने लगा.

First And Important सत्य जिसे मैंने जाना है कि हमें अपनी सकारात्मक कौशल, Positive Skills को Use करना चाहिए जो ऊपर वाले ने सारे प्राणी विशेषकर मनुष्यों को दी हैं. किसी की बातचीत बहुत मीठी है तो कोई Writing में दूसरों से बेहतर, किसी को Physical Strength से सम्मानित किया गया है तो किसी की मानसिक कौशल बढ़िया हैं.

अपने आप को, अपने अन्दर छुपे Skills को पहचानें

आइए आपको एक खरगोश की काल्पनिक Story सुनाता हूँ. जिसे एक School में भर्ती कराया गया. दूसरे खरगोश की तरह वह भी बहुत ऊँची-ऊंची और लंबी छलाँगें मार लेता था लेकिन उसे Swimming नहीं आती थी. अंत उसे छलांग में तो बहुत अच्छे Points मिले लेकिन Swimming में वह Fail हो गया.

उसके Parents बहुत नाराज हुए और कहने लगे कि लानत भेजो छलाँगों पर! अगले साल केवल Swimming ही सीखना है. इसलिए वेलोग उसे ऐसे School में डाल दिए जहाँ तैराकी सिखाई जाती थी.

अब देखिए क्या हुआ …?

साल के अंत तक वह Swimming तो क्या सीखता, छलांगें लगाना भी भूल गया.

यह तो आप जानते ही होंगे कि खरगोश तेरा नहीं करते.

साबित यह हुआ कि जहां हमें यह मालूम हो कि हम में क्या कमियां हैं, वहीं यह भी बेहद जरूरी है कि हमें अपने अंदर छुपे उन Qualities का और Energy का पूरा पूरा एहसास हो जिनसे ऊपर वाले ने हर एक को नवाज रखा है।

यह इसलिए भी जरूरी है कि हमारे Character का गुणगान ही हमें Capable बनाता है कि अपनी कमियों को दूर कर सकें.

मेहनत की आदत

जीवन का दूसरा Lesson मैं ने सीखा है वह है Hard Work की आदत. मेहनत से कमाया हुआ एक रुपया अपनी क़दर व क़ीमत में उन दस रुपयों से बेहतर है जो हमें बिना प्रयास के मिल जाएं.

मुझे अपने एक दोस्त की बच्ची की कहानी याद है जिसे Cook का बनाया हुआ नाश्ता कभी पसंद नहीं आता था. Cook ने हज़ार कोशिश कर ली लेकिन बच्ची खुश न हुई. अंत में एक दिन मेरा दोस्त उसे एक बड़ा Store में ले गया और बने बनाए नाश्ते के डिब्बे दिखाकर कहा कि पसंद कर लो. बच्ची ने One Dozen डिब्बे ले लिए, Instructions के अनुसार उन्हें Microwave में रखा और दो मिनट में नाश्ता तैयार कर लिया. उसने जब उन्हें खाया तो उसे वह बहुत स्वादिष्ट लगा।

दोनों में फर्क केवल यह था कि अब उसने नाश्ता अपने हाथों से बनाया था.

यह हकीक़त है कि अपनी मेहनत और प्रयास से हासिल किए हुए पुरस्कार से बेहतर कोई खुशी नहीं होती. विरासत या Lottery से मिले धन न तो स्थायी होते हैं, और न ही आपको वास्तविक खुशियां दे सकते हैं.

असफलताओं, Failures से सीखें

मुझे जीवन से तीसरा Lesson यह मिला कि बुद्धिमान से बुद्धिमान Student भी सौ से ज्यादा Number नहीं ला सकता. Life, Success और विफलता के बिच घुमाव का ही नाम है … कभी आप Success होते हो तो कभी असफल! सफलता बहुत खुशी का कारण होती है लेकिन हमें इसे अपने ऊपर इस तरह सवारी नहीं करना चाहिए कि वह अहंकार बन जाए.

यदि खुदा-न-खास्ता ऐसा हो जाए तो जान लीजिए कि आपने Failure की दिशा में पहला कदम उठा लिया है.

Life में जब भी Success हों तो उसे अल्लाह तआला का दिया हुआ Daily Life का एक Part समझ कर Accept करें. विफलता के मामले में अपनी आप को या किसी और को दोष देने से बेहतर है कि उसे दिल से Accept कर लें और विचार करें कि उस विफलता में आप का हिस्सा कितना है और External Elements ने क्या Role निभाई है, फिर सीख हासिल कर के आगे बढ़ जाए.

विनम्रता, Humility

विनम्रता, Humility का Value और उपयोगिता मेरे Life का चौथा Lesson है. कभी कभी अपने जीवन में इतना कुछ हासिल हो जाता है कि आप सोचने लगते हैं, क्या मैं इसका योग्य हूँ भी या नहीं?

इस अवसर पर अल्लाह ताआला का आभारी होना बहुत जरूरी है. साथ साथ अपने माता पिता, Teachers, जानने वालों और उन तमाम लोगों का भी एहसान याद रखना चाहिए जिनकी प्यार और उत्साह के कारण आप सफल हुए. इसके अतिरिक्त गाहे गाहे उन लोगों के साथ भी अपनी खुशयां बाँटें जो आप के प्राप्त खुशी से वंचित हैं.

अच्छे से अच्छे की खोज

जीवन का पांचवां Lesson जो मुझे मिला वह अपने Work को बेहतर से बेहतर बनाने की कोशिश. Aim पाने के लिए अपने से बेहतर और सफल लोगों के जीवन में झांकें. इसके लिए Biography पढ़ना एक रोचक और Extremely Useful शौक है.

यह जानने की कोशिश कीजिए कि वे लोग हमसे कहां कहां बेहतर साबित हुए. अपनी कार्य प्रणाली के बारे में विश्लेषण करें कि क्या आप भी Specific Conditions में उन जैसे उपाय कर सकते हैं?

साहसी बनें

छठा Lesson यह है कि Difficult situations का सामना हो तो साहस न छोड़िये. कठिनाइयां आमतौर पर अचानक आप के सामने आ खड़ी होती हैं. ऐसे में दो ही रास्ते हैं … खुद को दोषी बताते हुए खाली हाथ ताकते रहना या Self-confidence और साहस, Courage को Use निकल जाने का निर्णय. याद रखें लोहे की असली पहचान आग की भट्ठी से निकलने के बाद ही होता है.

कभी भी हिम्मत नहीं हारें. एक बार देखा कि मेरे एक दोस्त की बेटी Cardboard के छोटे छोटे Pieces जोड़कर फोटो बना रही है, लेकिन सफल नहीं हो पाई. उसके पिता ने कहा कि बेटा आज यह काम आप से नहीं हो रहा, कल कर लेना. बच्ची ने बड़ी मासूमियत से कहा ” लेकिन अबू सारे Pieces तो यहीं मौजूद हैं, तो फिर मैं आज क्यों नहीं जोड़ सकती, इसे कल तक छोड़ने का क्या लाभ?”

अगर हम अपने काम में Strong रहें और हिम्मत न हारें तो मुश्किल से मुश्किल Problem का भी Solution ढूँढा जा सकता है.

Flexible Attitude अपनाएं

मैंने अपने जीवन से सातवां Lesson में सीखा है कि हमें अपने Behavior में लचीलापन पैदा करनी चाहिए लेकिन इसके लिए सिद्धांतों, Theories के साथ कभी समझौता न कीजिए.

एक विद्वान का कथन है कि मन की खिड़कियां खुली रखनी चाहिए लेकिन यह याद रहे, बाहर की तेज आंधी आप को अपने Position से न हटा दे. आप अपने उच्च Character की पहचान कीजिए और दृढ़ रहने का हौसला पैदा करें.

हमेशा अच्छी आदत अपनाएं

आठवां और अंतिम Lesson यह है कि हमें खुद पर इतना Confidence होना चाहिए कि पूरी दुनिया विरोध करे, तब भी आप अपने सही रुख पर सख्ती से डटे रहें.

एक अख़बार विक्रेता था. एक Customer पर्तिदिन उसके दुकान आता था वह जब भी आता अख़बार विक्रेता उसका स्वागत किया करता, लेकिन Customer अभिमान के साथ अठन्नी फेंकता और अख़बार उठा कर चलता बनता. दुकानदार कहता ” धन्यवाद, भगवान करे आप का दिन शुभ हो। ” लेकिन Customer कोई उत्तर नहीं देता.

एक दिन अखबार विक्रेता के Staff ने उसे पूछा कि आखिर आप ऐसा क्यों करते हैं? वह तो आप के साथ अपमानजनक व्यवहार करता है और आप प्रतिदिन उसे नैतिकता के साथ बात करते हैं.

दुकानदार बोला ” देखो मियां में उसकी बुरी आदत की वजह से अपनी अच्छी आदत क्यों छोड़ दूं? ”

मेरे प्रियों! मैं भी जवानी में बड़ा विद्रोही था और कभी कभी यह विद्रोह बिना किसी उद्देश्य के होती थी. आज मुझे लगता है कि किसी problem का सही Solution यह है कि हम ठंडे दिल से उसकी समीक्षा करें क्रोध या सरकशी समस्या को और अधिक बिगाड़ देती है.

याद रखिए जीत उन्हीं के भाग्य में होती है जिन्हें अपने जीतने का विश्वास हो … आज नहीं तो कल.

UPTO
50%
Cash-Back
Deal
Recharge using any payment method and get a 50% cashback; The total cashback that a customer can avail during the offer period is INR 50; The Offer is applicable for both new and existing customers; Shop with Amazon Pay balance only for the eligible products and get Rs.50 cashback. (b) The cashback amount will be credited to the eligible customer's account as Amazon Pay balance There is no minimum recharge value required to be eligible for the offer More Less

About the author

Absarul Haque

एक ब्लॉगर जो अपनी बातों को अच्छी बातों में बदलना चाहता है. और आपके सहयोग के बिना ये नामुमकिन है.

Leave a Comment