Celebrity

Mother Teresa in Hindi मदर टेरेसा

Mother Teresa (1910-1997)

Mother Teresa कहती हैं, ” हम अक्सर बहुत बढ़िया काम नहीं कर सकते लेकिन हम छोटे काम बहुत प्यार से करके उन्हें अमर बना सकते हैं ” Mother Teresa का नाम मन में आते ही मानवता की सेवा में लगे देवी का कल्पना मन में आता है। उन्हें मानवता दोस्त सेवाओं के लिए 1979 में Nobel Prize से सम्मानित किया गया।

House of Mother Teresa मदर टेरेसा

2007 image of Mother Teresa’s Home for the Dying, Nirmal Hriday, in Kolkata.

Image credit Wikipedia

Mother Teresa ने मानवता की सेवा का शुभारंभ उन लोगों को देख कर किया जिनकी चिंता करने वाला कोई नहीं होता था। लोगों की सेवा करते करते वह खुद दिल की मरीज़ा हो गईं। उम्र के अंतिम भाग में उन्हें Pneumonia और Malaria हुआ और अंततः 1997 में इस संसार से कूच कर गईं। मदर टेरेसा की मिशनरी गतिविधियों को दुनिया भर में सम्मान की दृष्टि से देखा जाता है। उनका Charitable Mission दुनिया के सभी महाद्वीपों में मौजूद है।

वर्तमान के European Country Macedonia के शहर स्कोपेये में एक Albanian व्यापारी घराने में पैदा होने वाली लड़की Catholic विश्वास के साथ बढी थी। सत्रह साल की उम्र में माता पिता के घर को छोड़कर Ireland के शहर में स्थापित युवा लड़कियों के लिए आवंटित ” ऑर्डर ऑफ़ वर्जिन ” Mission में शामिल हो गईं।

दिसंबर 1928 में वह भारत पहुंचकर Darjeeling में रहना शुरू की। वहां पर उन्होंने “Loreto convent” की स्थापना की। 1930 में उन्होंने Kolkata के एक Catholic School में बच्चों को पढ़ाना Start कर दिया। 1948 में बारहवें Pope Pius अनुमति से अपना मिशन स्थापित करने की प्रक्रिया शुरू कर दी।

दो साल बाद Catholic आस्था के केंद्र Vatican ने Mother Teresa के Charitable Mission को Officially तौर पर मान्यता दे दी। उड़ दौर में युवा Sister Mother Teresa ने दर्जनों लोगों को गरीबी के हाथों मरते देखा। एक बेहोश महिला को पाया जिसका आधा शरीर चूहों और चींटियों ने खाया हुआ था। पास के एक Hospital ने उस महिला का इलाज करने से मना कर दिया था।

उसकी मौत के बाद Sister Mother Teresa ने अहद किया कि इस तरह अब किसी को नहीं मरना चाहिए। उन्होंने इस सोच के बाद एक घर में Care Center स्थापित करने का फैसला किया। शहर प्रशासन ने Kolkata के KaliGhat जिले के पास Kali Mandir के पहलू में स्थित एक खाली इमारत का उपयोग करने की अनुमति Sister Mother Teresa को दे दी। उस घर में अगले वर्षों में लगभग चालीस हजार नादार और गरीब लोग अपने जीवन के अंतिम दिन बिताने में सक्षम हो सके। Mother Teresa का मौत के हवाले से कहना था ”मानव जाति की बेहतरीन स्थिति मृत्यु है, सुकून की मौत पाने का मतलब बेहतर अंजाम है।” इस समय Mother Teresa के द्वारा स्थापित Charitable Mission की शाखाएं 130 देशों में फैल चुकी हैं।

यह एक Global Movement का रूप धारण चुकी है। चार हजार Nuns इस आंदोलन से पूरी तरह से जुड़े हैं, जबकि दुनिया भर में गरीबों और पिछड़े लोगों के लिए छह सौ घर सक्रिय हैं।

UPTO
50%
Cash-Back
Deal
Recharge using any payment method and get a 50% cashback; The total cashback that a customer can avail during the offer period is INR 50; The Offer is applicable for both new and existing customers; Shop with Amazon Pay balance only for the eligible products and get Rs.50 cashback. (b) The cashback amount will be credited to the eligible customer's account as Amazon Pay balance There is no minimum recharge value required to be eligible for the offer More Less

About the author

Absarul Haque

एक ब्लॉगर जो अपनी बातों को अच्छी बातों में बदलना चाहता है. और आपके सहयोग के बिना ये नामुमकिन है.

Leave a Comment

1 Comment

  • Nice article, Mother Teresa is known all over the world for her virtues and love that she displayed in the service of poorest of poor people of the world.
    Thanks …..